रिवैम्पिंग सेल ने लागत नियंत्रण कर संयंत्र के लिए की बहुमूल्य बचत

भिलाई | भिलाई इस्पात संयंत्र का रिवैम्पिंग सेल विभाग ने आंतरिक संसाधनों से एसएमएस-1 के चार्जिंग बोगी का फेब्रीकेशन कर संयंत्र के लिए लागत नियंत्रण की दिशा में बहुमूल्य आर्थिक बचत कर उल्लेखनीय योगदान दिया है। विदित हो कि चार्जिंग बोगी एसएमएस-1 का एक प्रमुख उपकरण है, जो फर्नेस के प्रचालन में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। यदि चार्जिंग बोगी को बाजार से खरीदा जाता तो इसके लिए अधिक धनराशि खर्च की जानी पड़ती। रिवैम्पिंग सेल ने आंतरिक संसाधनों के माध्यम से इस महत्वपूर्ण उपकरण को संयंत्र के अन्य सहयोगी विभागों के प्रयास से, इसके निर्माण और अन्य कार्य को सफलतापूर्वक सम्पन्न कर लिया।

ज्ञात हो कि चार्जिंग बोगी को बनाने में रिवैम्पिंग सेल विभाग के वरिष्ठ प्रबंधक श्री डी पी अग्रवाल, सहायक प्रबंधक श्री प्रमोद कुमार, सहायक प्रबंधक श्री विनोद कुमार एवं विभागीय कर्मचारियों सहित ईडीडी और एसएमएस-1 विभाग के अधिकारियों का भी सहयोग रहा है, इन सभी के महती प्रयासों के कारण ही संयंत्र के लिए बहुमूल्य आर्थिक बचत हुई।

चार्जिंग बोगी के सम्पूर्ण निर्माण कार्य पूरा हो जाने के पश्चात् महाप्रबंधक (एसएमएस-1) श्री एम पी सिंह एवं महाप्रबंधक (याँत्रिकी) श्री अरविंद कुमार ने एसएमएस-1 में प्रचालन कार्य हेतु इसका विधिवत् उद्घाटन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here